Swami Vivekananda के 10 वास्तविक सत्य जो हमें रास्ता भटकने से बचाते हैं in hindi 2017

Swami Vivekananda के 10 वास्तविक सत्य जो हमें रास्ता भटकने से बचाते हैं

Life Changing Videos in Hindi

Swami Vivekananda (स्वामी विवेकानन्द) in Hindi 2017

Swami Vivekananda (स्वामी विवेकानन्द) जन्म 12 जनवरी 1863, वेदान्त के विख्यात और प्रभावशाली आध्यात्मिक गुरु थे। उनका वास्तविक नाम नरेन्द्र नाथ दत्त था।

कलकत्ता के एक कुलीन बंगाली परिवार में जन्मे, Swami Vivekananda आध्यात्मिकता की ओर झुके हुए थे। वे अपने गुरु रामकृष्ण देव से काफी प्रभावित थे जिनसे उन्होंने सीखा कि सारे जीव स्वयं परमात्मा का ही एक अवतार हैं; इसलिए मानव जाति की सेवा द्वारा परमात्मा की भी सेवा की जा सकती है। 

उन्होंने अमेरिका स्थित शिकागो में सन् 1983 में आयोजित विश्व धर्म महासभा में भारत की ओर से सनातन धर्म का प्रतिनिधित्व किया था। भारत का आध्यात्मिकता से परिपूर्ण वेदान्त दर्शन अमेरिका और यूरोप के हर एक देश में Swami Vivekananda (स्वामी विवेकानन्द) की वक्तृता के कारण ही पहुँचा। उन्होंने रामकृष्ण मिशन की स्थापना की थी जो आज भी अपना काम कर रहा है।

  1. प्रत्येक बड़े काम को तीन चरणों से होकर गुजरना पड़ता है. उपहास, विरोध, स्वीकृति.
  2. एक समय में एक काम करो, और ऐसा करते समय अपनी पूरी आत्मा उसमें डाल दो और बाकी सब कुछ भूल जाओ.
  1. किसी दिन, जब आपके सामने कोई समस्या ना आये तो आप सुनिश्चित हो सकते हैं कि आप गलत मार्ग पर चल रहे हैं यही सफलता का मूलमंत्र है.
  1. स्वतंत्र होने का साहस करो, जहाँ तक तुम्हारे विचार जाते हैं वहां तक जाने का साहस करो, और उन्हें अपने जीवन में उतारने का साहस करो.
  1. किसी चीज से डरो मत. तुम अद्भुत काम करोगे. यह निर्भयता ही है जो क्षण भर में परम आनंद लाती है.
  1. दूसरों की मदद के इंतजार में समय गंवाना मूर्खता है. खुद पर निर्भर रहकर हीं आप सफलता पा सकते है.
  1. संघर्ष जितना कठिन होता है, सफलता भी उतनी ही बड़ी मिलती है.
  1. एक विचार लो. उस विचार को अपना जीवन बना लो – उसके बारे में सोचो उसके सपने देखो, उस विचार को जियो. अपने मस्तिष्क, मांसपेशियों, नसों, शरीर के हर हिस्से को उस विचार में डूब जाने दो, और बाकी सभी विचारों को किनारे रख दो. यही सफल होने का असली सूत्र है.
  1. जिंदगी में हमें बने बनाए रास्ते नहीं मिलते हैं, जिंदगी में आगे बढ़ने के लिए हमें खुद अपने रास्ते बनाने पड़ते हैं.
  1. उठो, जागो और तब तक नहीं रुको जब तक लक्ष्य ना प्राप्त हो जाये.

 

Share this with your Friends:

Leave a Reply

Be the First to Comment!

Notify of
avatar
800
wpDiscuz